PM Kisan Tractor Yojana


PM Kisan Tractor Yojana-

जैसे की हम सब जानते ही हैं देश में किसानों को सिंचाई में और खेतों को जोतने में अक्सर बहुत सी समस्या का सामना करना पड़ता है। ऐसी ही समस्याओं का अंत करने के लिए केंद्र सरकार ने PM Kisan Tractor Yojana की शुरूवात की है। इस योजना में किसानों को 20-50 प्रतिशत तक की सब्सिडी दी जाएगी। केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही यह मुहिम किसानों की आय तो बढ़ाएंगी ही साथ ही उनका काम भी बेहद आसान बना देगी।


PM Kisan Tractor Yojana के लाभ

·         इस योजना में आवेदन देश के छोटे एवं सीमांत किसान ही कर पाएंगे।

·         योजना के तहत किसान किसी भी कंपनी का ट्रेक्टर खरीद सकेंगे।

·         योजना में देश के किसी भी राज्य का किसान आवेदन कर सकेगा।

·         इस योजना में किसानों को लोन और सब्सिडी दोनो ही दी जाती है।

·         योजना का लाभ उठाने के लिए रजिस्ट्रेशन कराना अनिवार्य होगा। 

·         आवेदन ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनो ही तरह से किया जा सकेगा।

·         योजना का लाभ किसानों के खातों में सीधा पंहुचाया जाएगा।

·         ऑफलाइन आवेदन करने के लिए किसानों को सीएससी सेंटर जाना होगा।

·         योजना के माध्यम से किसान को केवल एक ही ट्रेक्टर पर सब्सिडी दी जाएगी। 

·         योजना में महिला किसानों को प्राथमिकता दी जाएगी। 

·         इस योजना का लाभ केवल उन्ही किसानों को दिया जाएगा जो अन्य ऐसी ही किसी योजना से जुड़े हुए ना हों।


 

 

देश में ज्यादातर छोटे और सीमांत किसान मौजूद हैं। इनके पास जुताई के साधन ही नही हैं और ना ही इनके पास इतना धन है जिससे यह ये साधन ले सकें। ऐसे ही किसानों को खेती में मदद दी जा सकें और वह बिना किसी चिंता के खेती कर सकें इसके लिए पीएम किसान ट्रेक्टर योजना शुरू की गई है।

 

·         इस योजना का लाभ देश के सभी छोटे किसानों को दिया जाएगा।
पीएम किसान ट्रेक्टर योजना में महिला किसानों को अधिक बढ़ावा दिया जाएगा

·         योजना के माध्यम से किसानों को 20-50 प्रतिशत तक की सब्सिडी दी जाएगी।

·         ट्रैक्टर योजना के माध्यम से किसानों का खेती करना आसान हो जाएगा।

·         योजना में आवेदन करने वाले व्यक्ति को सब्सिडी के साथ साथ लोन भी दिया जाएगा। 

·         टैक्टर योजना के जरिए किसानों की आय में बढ़ोतरी होगी।

·         किसानों की आर्थिक स्थिति बेहतर होगी

 

 

 

PM Kisan Tractor Yojana की पात्रता 

 

  • यह योजना केवल छोटे और सीमांत किसानों के लिए ही है, लिहाजा बड़े किसान और जमींदर इस योजना का लाभ नहीं ले पाएंगे।
  • किसान के पास खुद की भूमि होने चाहिए।
  • किसान के पास पहले से ही किसी ऐसी योजना लाभार्थी ना रहा हो।
  • आवेदन करने वाले किसान के पास उसका आधार कार्ड होना अनिवार्य है।
  • जमीन के कागजात।
  • पहचान प्रमाण पत्र होना जरूरी है।
  • पैन कार्ड
  • बैंक अकाउंट की संपूर्ण जानकारी  
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

 

 

 

·         योजना में आवेदन करने वाले व्यक्ति को किसी तरह की कोई समस्या ना आए इसलिए आवेदन की प्रक्रिया ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनो ही तरह से रखी गई है। 

·         किसान को योजना में ऑफलाइन आवेदन करने के लिए अपने नज़दीकी कृषि विभाग या नज़दीकी सेवा केंद्र में जाना होगा। 

·         यंहा जा कर आपको आवेदन करने के लिए फॉर्म लेना होगा।

·         अब फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी दर्ज करनी होगी। साथ ही मांगे गए दस्तावेज की कॉपी भी लगानी होगी। 

·         अब इस फॉर्म को सेवा केंद्र में ही जमा करा दे।

·         इसके बाद आपके फॉर्म की जांच की जाएगी और सब कुछ सही पाई जाने पार आपके खातें में सब्सिडी का पैसा ट्रांसफर कर दिया जाएगा।

·         अभी इस योजना के में ऑनलाइन आवेदन करने की सेवा केवल कुछ राज्यों के लिए ही खोली गई है। आप जिस भी राज्य से हो नीचे दिए गए टेबल के अनुसार ही प्रक्रिया फॉलों करनी होगी। 

·         जंहा साइट का लिंक होगा वंहा आप ऑनलाइन आवेदन कर सकते है। जंहा ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया नहीं खुली होगी वंहा आपको CSC Centre जा कर ही आवेदन करना होगा। आइए देखते हैं सूची

केंद्र सरकार ने पीएम किसान योजना (pm kisan samman nidhi yojana 2020) से जुड़े किसानों के खातों में इस छठी किस्त ट्रांसफर करना शुरू कर दिया है. सरकार पीएम किसान सम्मान निधि की छठी किस्त (pm kisan samman nidhi yojana 2020 payment ) को किसानों के खातों में 1 अगस्त से भेज रही है. जिन किसानों के खातों में अभी तक ये रकम नहीं पहुंची है वे कुछ दिन इंतजार कर सकते हैं. कुछ दिनों के बाद उनके खातों में पैसा पहुंच जाएगा. देश के करीब 10 करोड़ किसानों के बैंक अकाउंट में इस बार सरकार छठी किस्त (PM kisan Samman Nidhi 6th installment) के रूप में 2000 रुपये भेजेगी. इससे पहले योजना की पांचवी किस्त को सरकार ने अप्रैल माह में भेजी थी

0 comments: