abdul kalam-poverty to prosperity-books-vision for a better-2030



abdul kalam-poverty to prosperity vision for a better-2030 

abdul kalam-poverty to prosperity-books-vision for a better-2030
अब्दुल कलाम abdul kalam-poverty to prosperity-books-vision for a better-2030

freejobalertup.com is a special site all in one employment news read more to 
click

abdul kalam

abdul kalam भारतीय इतिहास में होने बाले मानव कल्याण के अवतरण के क्रम में आधुनिक युग के मसीहा के रूप में आये तथा मानव जात के कल्याण में महत्ब्पूर्ण कार्य करके इस संसार से विदा होकर चले गए आज वो हमारे बीच नहीं है परन्तु उनके अनमोल विचार और कार्य हमें आज भी प्रेरणा दे रहे है भारतीय इतिहास में इतना साहसी एवं दूरद्रष्टा इंसान मैंने जिआ नहीं है 

abdul kalam के विषय में कुछ महत्वपूर्ण तथ्य 

  • 15 अक्टूबर 1931 को रामेश्वरम में एक  में जैनुलाबुद्दीन के घर   बालक का जन्म   हुआ था। यह बालक अब्दुल कलाम था   जैनुलाबुद्दीन एक नाव के मालिक थे, जबकि उनकी पत्नी आशियम्मा एक गृहिणी थीं। कलाम के चार बड़े भाई-बहन थे।
  • हालाँकि उनके पूर्वज व्यापारी थे, लेकिन कलाम जन्म के समय उनका परिवार गरीबी से जूझ रहे थे।
  • भले ही परिवार आर्थिक रूप से ठीक नहीं था, लेकिन बच्चों को प्यार से भरे माहौल में पाला पोषा गया था। दशकों बाद कलाम ने जो किताबें लिखीं, उनमें से एक में उन्हें याद आया कि कैसे उनकी मां बच्चों को प्यार से अपना खाना खिलाती हैं और खुद भूखी रह जाती हैं।
  • वह एक अच्छे छात्र थे और हमेशा यह जानने के लिए उत्सुक रहते थे कि यह कैसे हुवा। जब वह दस साल के थे, तो उनके एक शिक्षक, शिव सुब्रमण्य अय्यर, छात्रों को समुद्र के किनारे ले गए और उन्हें उड़ान में पक्षियों का निरीक्षण करने के लिए कहा।
  • Schwartz Higher Secondary School, में पढ़ाई पूरी करने के बाद, उन्होंने 1954 में Saint Joseph’s College, तिरुचिरापल्ली में विज्ञान में स्नातक की उपाधि प्राप्त की। अपने बचपन के सपने को देखते हुए, उन्होंने मद्रास इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में एयरोस्पेस इंजीनियरिंग (aerospace engineering) का अध्ययन करने के लिए मद्रास की यात्रा की।
  • अपने तीसरे वर्ष के दौरान, उन्हें कुछ अन्य छात्रों के साथ मिलकर एक निम्न-स्तर (low-level attack) के हमले के विमान को डिजाइन करने के लिए एक परियोजना (design) सौंपी गई थी। परियोजना एक कठिन थी और उस टॉपिक पर, उनके गाइड ने उन्हें बहुत तंग समय सीमा दी। (very tight deadline) भारी दबाव में काम करने वाले युवा एक साथ, और अंत में निर्धारित समय सीमा के भीतर लक्ष्य हासिल करने में कामयाब रहे। गाइड कलाम के समर्पण से पूरी तरह प्रभावित था।
  • इस मौके पर कलाम एक फाइटर पायलट बनने के इच्छुक थे। हालाँकि वह इस सपने को साकार नहीं कर सके।परन्तु 8 जून 2006 को उन्होंने फाइटर प्लेन सफलता पूर्बक उड़ाया 

abdul kalam

abdul kalam
abdul kalamabdul kalam

हमारे राष्ट्र के प्रथम नागरिक माननीय अब्दुल कलाम साहब इस राष्ट्र की राष्ट्रीय धरोहर को बिभूषित करने बाले ऐसे ब्यक्ति थे जिन्होंने अपने जीवन में यह सिद्ध कर दिया की जो आप चाहते हो वो आपको मिलेगा ही मिलेगा उनकी कुछ पंक्तिया 

Thoughts of apj abdul kalam

My message especially to young people is to have courage to think differently courage to invent to travel the unexplored path courage to discover the impossible and to conquer the problems and succeed These are great qualities that they must work towards This is my message to the young people -Dr. A P J Abdul Kalam 

Thoughts of apj abdul kalam in hindi 

मेरा संदेश विशेष रूप से युवाओं के लिए है कि वे अलग सोचने का साहस रखें आविष्कार करने का साहस रखें अनदेखे रास्तों पर चलने का साहस रखें असंभव को खोजने और समस्याओं पर जीत हासिल करके सफल होने का साहस रखें। ये महान गुण हैं जिनके लिए उन्हें ज़रूर काम करना चाहिए। युवाओं के लिए ये मेरा सन्देश है

                   Dr. A P J Abdul Kalam

0 comments: